रोमांटिक कहानी लव स्टोरी|COLLEGE LOVE STORY-2

रोमांटिक कहानी लव स्टोरी|COLLEGE LOVE STORY-2
image from rankmegood.com

COLLEGE LOVE STORY IN HINDI| TRUE LOVE STORY IN HINDI

यह एक सच्ची और रोमांटिक कहानी लव स्टोरी|COLLEGE LOVE STORY है। पिछले पार्ट (पार्ट 1 – दोस्ती प्यार में बदल गई)में जो आपने कहानी पढ़ी ये उसका अगला पार्ट है।

पार्ट 2 – प्यार ज़िन्दगी बन गई

सुप्रिया और रघुवीर अपना अपना सामान ले के रूम में चले जाते है। रूम बहुत शानदार होता है। सुप्रिया जाते ही नहाने चली जाती है। और रघुवीर बैठा रहता है अपने मोबाइल में गेम खेलने लगता है तभी सुप्रिया आ जाती है। रघुवीर सुप्रिया को देखते ही रह जाता है। सुप्रिया रघुवीर के पास आ जाती है और कहती है क्या हुआ, तो रघुवीर कहता तुम बहुत सुंदर दिख रही हो, सुप्रिया शर्माते हुए कहती है मैं तो सुंदर ही हूँ जाओ नहाने लो, और फिर रघुवीर भी चला जाता है नहाने।

रघुवीर नहाकर बहार निकलता है और वो टॉवल में ही बाहर आ जाता है। रघुवीर भूल गया की सुप्रिया भी उसके साथ है। सुप्रिया रघुवीर को देखने लगती है और रघुवीर के पास आ जाती है। और रघुवीर को गले लगा लेती है। रघुवीर भी गले लगा लेता है सुप्रिया को, दोनों एक दूसरे को किश करने लगते है।

Picture from wikihow

रघुवीर कहता है सुप्रिया क्या यह सही है, सुप्रिया कहती है जो भी हो रहा सब सही हो रहा रघुवीर, आज तुम मुझे अपना बना लो बहुत दिनों के बाद मुझे मेरा प्यार मिला है।

इतना सुनते ही रघुवीर सुप्रिया को गोदी में उठा लेता है और बेड पर लिटा देता है, दोनों प्यार करने लगते है। दोनों सब कुछ भूल जाते है एक दूसरे में। रघुवीर सुप्रिया को किश करता है पैरो से लेकर ऊपर तक, सुप्रिया को बहुत अच्छा लगता है।

 सुप्रिया रघुवीर को अपने ऊपर खींच लेती है और दोनों किश करने लगते है, सब कुछ भूल कर प्यार करने लगते है। फिर दोनों सो जाते है।

सुबह हो जाती है सुप्रिया उठ के अपने कपड़ पहनने लगती है और फिर रघुवीर को भी उठा देती है।प्यार की आग दोनो तरफ बराबर लग चुकी थी, पर एक रात साथ बिताने के बाद भी सुबह दोनो काफी समय तक शांत बैठे रहते हैं।

तभी सुप्रिया की आवाज रघुवीर के कानों में गूंजती है

 कहती है मैं अब तुम्हारे बिना नहीं रह सकती

ALSO READ:- मोस्ट रोमांटिक लव स्टोरी इन हिंदी

 रघुवीर को लगा जैसे की वो अभी तक सपना देख रहा था और अचानक उसका सपना सच हो गया

रघुवीर भी कहता है मैं भी नहीं रह सकता तुम्हारे बिना

 दोनों एक साथ रहने का फैसला करते हैं और अपने मम्मी पापा को कहना चाहते है शादी की बात करने के लिए।

 सुप्रिया कहती है हम आगे नहीं जायँगे, हम यही से ही घर चलते है। अब दोनों एक दूसरे के बिना एक पल भी नहीं रह सकते और दूसरी गाड़ी बुक करके अपने -अपने घर चले जाते है। घर जाते ही दोनों अपने मम्मी पापा से बात करने लगते है। दोनों की फैमली एक दूसरे को जानती है तो मना नहीं करती।

तभी सुप्रिया का कॉल आता है। और रघुवीर भी सुप्रिया को कॉल करने वाला था।

सुप्रिया: हेलो

रघुवीर: हेलो सुप्रिया मैं अब तुझे कॉल करने वाला था

 सुप्रिया: चल झूठे

वीर: नहीं सच्च

रिया: छोड़ मेरे मम्मी -पापा हम दोनों की शादी के लिए हां कह दी 

 वीर: मेरे भी मम्मी पापा मान गए और शाम को अपने मम्मी पापा के साथ तुम्हारे घर आ रहा हूँ 

 रिया: जल्दी आना मैं इंतजार करुँगी

फिर फ़ोन रख देते है दोनों बहुत खुश होते है। रिया अपने मम्मी पापा को बताती है कि वीर के मम्मी पापा आने वाले हैं शाम को और तैयारी करने लगती है।  टाइम कब बीत जाता है पता ही नहीं चलता रिया तैयार होने लगती है । शाम होते ही वीर अपने मम्मी पापा के साथ रिया के घर पहुच जाता है। रिया के घर जाते सब को नमस्ते करते है।

दोनों परिवार बाते करते है और खुश होते है और एक दूसरे का मुँह मीठा कराते है। और जल्दी ही दोनों को एक करने की सोचते है। और पंडित को बुलाकर शादी की तारिक फिक्स करने लगते है। रिया और वीर दोनों बहुत खुश होते है। बहुत जल्दी दोनों की शादी हो जाती है और दोनों परिवार बहुत खुश होते है।

वीर और रिया दोनों हनीमून चले जाते है और कुछ ही महीनो में वीर और रिया की एक प्यारी सी बेबी होती है दोनों बहुत खुश होते है।

दोस्तों रिया और वीर का प्यार किस्मत में था और इन दोनों का प्यार आज भी उतना ही है। यह कहानी COLLEGE LOVE STORY-2 सच्ची है।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *